Monday , 22 October 2018

Home » भारत » छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष जेल भेजे गए, कार्यकर्ताओं का हंगामा

छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष जेल भेजे गए, कार्यकर्ताओं का हंगामा

भूपेश बघेल ने जेल भेजे जाने के दौरान मीडिया से कहा, “मैंने कोई अपराध नहीं किया है। मामला उजागर करना अपराध नहीं होता है। चूंकि मैं निर्दोष हूं, इसलिए मैंने ना बेल मांगा और ना ही वकील किया। सरकार प्रधानमंत्री को काले झंडे दिखाए जाने को लेकर ये कार्रवाई कर रही है।”

बघेल को जेल भेजे जाने की खबर सुनते ही कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने अदालत परिसर में जमकर हंगामा किया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उन्होंने हिरासत में लिए गए बघेल की गाड़ी को कुछ देर तक आगे नहीं बढ़ने दिया। इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर उन्हें रास्ते से हटाया। इस मामले में एक अन्य आरोपी पूर्व पत्रकार विनोद वर्मा और विजय भाटिया को जमानत दे दी गई।

सीबीआई ने सोमवार सुबह विनोद वर्मा, विजय भाटिया, विजय पांड्या, कैलाश मुरारका के अलावा प्रदेश कांग्रेस प्रमुख भूपेश बघेल के खिलाफ विशेष सीबीआई अदालत में चालान पेश किया था। लेकिन अदालत ने इसमें कई खामियां बताते हुए दोपहर 3 बजे दोबारा चालान पेश करने को कहा। दोपहर 3 बजे दोबारा चालान पेश किया गया। बघेल के साथ कांग्रेस के आधा दर्जन दिग्गज नेता भी अदालत पहुंचे थे। इस मामले के एक अन्य आरोपी रिंकू खनूजा ने पहले ही आत्महत्या कर ली थी।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष जेल भेजे गए, कार्यकर्ताओं का हंगामा Reviewed by on . भूपेश बघेल ने जेल भेजे जाने के दौरान मीडिया से कहा, "मैंने कोई अपराध नहीं किया है। मामला उजागर करना अपराध नहीं होता है। चूंकि मैं निर्दोष हूं, इसलिए मैंने ना बे भूपेश बघेल ने जेल भेजे जाने के दौरान मीडिया से कहा, "मैंने कोई अपराध नहीं किया है। मामला उजागर करना अपराध नहीं होता है। चूंकि मैं निर्दोष हूं, इसलिए मैंने ना बे Rating:
loading...
scroll to top