Tuesday , 21 November 2017

Home » धर्मंपथ » मध्य प्रदेश में बलात्कार के आरोपियों को फांसी की सजा

मध्य प्रदेश में बलात्कार के आरोपियों को फांसी की सजा

एक विवाहिता से बलात्कार के दोषी चार युवकों को प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश राजीव कर्महे ने फांसी की सजा सुनाई है। न्यायाधीश ने चारों आरोपियों पर इसके साथ ही जुर्माना भी लगाया है।

अभियोजन के अनुसार जिले के ग्राम कुडवन निवासी विवाहित महिला दूजाबाई-30 के साथ सामूहिक बलात्कार के दोषी सिद्ध होने पर दिलीप, शैलेष, मनीष एवं कुलदीप को फांसी की सजा से दंडित किया है।

मामले में बताया गया है कि दूजाबाई का गांव के ही दिलीप के साथ कथित प्रेम संबंध था, विवाह के बाद भी वह अधिकतर अपने मायके में ही रहती थी। पिछले वर्ष 11 मार्च को दिलीप ने उसे गांव के निकट स्थित जंगल में बुलाया था, लेकिन जब वह वहां पहुंची, तो दिलीप के साथ शैलेष, मनीष और कुलदीप भी थे।

उन्हें देखकर वह भागने लगी, जिस पर चारों युवकों ने उसे घेर कर बलात्कार किया और उसकी ही साड़ी से गले में फंदा बनाकर पेड़ पर लटका दिया। दूजाबाई का शव अगले दिन पेड़ पर लटका पाया गया।

मध्य प्रदेश में बलात्कार के आरोपियों को फांसी की सजा Reviewed by on . एक विवाहिता से बलात्कार के दोषी चार युवकों को प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश राजीव कर्महे ने फांसी की सजा सुनाई है। न्यायाधीश ने चारों आरोपियों पर इसके साथ ही जु एक विवाहिता से बलात्कार के दोषी चार युवकों को प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश राजीव कर्महे ने फांसी की सजा सुनाई है। न्यायाधीश ने चारों आरोपियों पर इसके साथ ही जु Rating:
scroll to top