Monday , 22 October 2018

सम्पादकीय

Feed Subscription

Editorial

यहां राम के राज्य में है  भूख, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार

यहां राम के राज्य में है भूख, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार

शैलेंद्र तिवारी बुदेलखंड के किनारे ओरछा से  सरयू किनारे पर बैठे राम आज कांग्रेस और भाजपा के भीतर सबसे बड़ा सियासी मुद्दा है, लेकिन वहीं दूसरी ओर मध्यप्रदेश में बेतवा किनारे ओरछा म ...

Read More »
पं.दीनदयाल उपाध्यायः एक यायावर महाव्रती  साँच कहै ता…जयराम शुक्ल

पं.दीनदयाल उपाध्यायः एक यायावर महाव्रती साँच कहै ता…जयराम शुक्ल

अभी कुछ दिन पहले मुगलसराय जंक्शन पं.दीनदयाल उपाध्याय के नाम कर दिया गया। इस पर कई जोधा विचलित हो गए, कहा इतिहास को भगवा रंग ओढाया जा रहा है। हम इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते। यह मुगलो ...

Read More »
भ्रष्टाचार अब व्यंग नहीं विमर्श का विषय साँच कहै ता

भ्रष्टाचार अब व्यंग नहीं विमर्श का विषय साँच कहै ता

शरद जोशी ने कोई पैतीस साल पहले हम भ्रष्टन के भ्रष्ट हमारे व्यंग्य निबंध रचा था। तब यह व्यंग्य था, लोगों को गुदगुदाने वाला। भ्रष्टाचारियों के सीने में नश्तर की तरह चुभने वाला। अब य ...

Read More »
इस भ्रम को साफ करिए वरना अनर्थ हो जाएगा साँच कहै ता..जयराम शुक्ल

इस भ्रम को साफ करिए वरना अनर्थ हो जाएगा साँच कहै ता..जयराम शुक्ल

एट्रोसिटी एक्ट को लेकर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की घोषणा के बाद लगता है कि हिलते तख्त का कंपन अब महसूस किया जाने लगा है। उम्मीद जगी है कि केंद्र सरकार भी इस कथित एक्ट के सख्त ...

Read More »
मानवता हो रही तार-तार…मप्र में दिव्यांगों से व्यभिचार,नजरें बंद किये सुशासन

मानवता हो रही तार-तार…मप्र में दिव्यांगों से व्यभिचार,नजरें बंद किये सुशासन

भोपाल में पिछले पखवाड़े में दो वीभत्स खुलासे हुए विकलांगों से व्यभिचार.इन दुष्कर्म के मामलों ने भले ही अख़बारों में सनसनी फैलाई हो लेकिन सत्ता-पक्ष की सुशासन की पोल खुल गयी .गौरमतलब ...

Read More »
अटल थे, अटल हैं, अटल रहेंगे!

अटल थे, अटल हैं, अटल रहेंगे!

राजशेखर व्यास  वे साधारण परिवार में जन्मे, साधारण से प्राइमरी स्कूल में पढ़े और साधारण से प्राइमरी स्कूल टीचर के बच्चे हैं। उनके पिता का नाम कृष्ण विहारी वाजपेयी और दादा थे पंडित ...

Read More »
कर्नाटक चुनाव- सरकार न बना पाने के बाद भी “मैन ऑफ़ द मैच” रहे अमित शाह

कर्नाटक चुनाव- सरकार न बना पाने के बाद भी “मैन ऑफ़ द मैच” रहे अमित शाह

सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी उस पर तुर्रा यह की लिंगायतों को हिदुओं से तोड़ अलग समुदाय का दर्जा देना इस चुनावी रणनीति को यदि ध्वस्त किया है तो यकीनन अमित शाह इस  बादशाहत के खिताब के हक़ ...

Read More »
मप्र:पत्रकारों को नहीं है शासन की सुरक्षा,मालिक भी नहीं मानते अपना

मप्र:पत्रकारों को नहीं है शासन की सुरक्षा,मालिक भी नहीं मानते अपना

भोपाल से अनिल सिंह  मप्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का सुशासन है यह दावा है स्वयं मुख्यमंत्री एवं उनके कारिंदों का लेकिन क्या यह महंगा दावा सही है महंगा इसलिए क्योंकि इस दावे को ...

Read More »
उप्र:असाधारण चुनाव के असाधारण नतीजे

उप्र:असाधारण चुनाव के असाधारण नतीजे

हमारा अतीत हमारे वर्तमान पर हावी होकर हमारे भविष्य पर प्रश्न चिह्न लगा देता है " , एक कटु सत्य । ' सबका साथ,सबका विकास ' क्या संभव हो पाएगा जब यूपी में होगा योगी का राज ? यूपी  चु ...

Read More »
भागवत जी की गरिमामय उपस्थिति और श्रम साधक सम्मेलन से श्रमिक नदारद

भागवत जी की गरिमामय उपस्थिति और श्रम साधक सम्मेलन से श्रमिक नदारद

भोपाल - मप्र की राजधानी भोपाल में संघ प्रमुख मोहन भागवत का आना  में कौतुक का विषय रहा .विश्व में संघ प्रमुख का किसी भी स्थान पर प्रवास हो वे आकर्षण बने रहते हैं.भोपाल में 10 फरवरी ...

Read More »
scroll to top