Wednesday , 24 April 2019

Home » भारत » भाजपा फिर से धोखापत्र ले लाई : अखिलेश

भाजपा फिर से धोखापत्र ले लाई : अखिलेश

April 9, 2019 8:01 pm by: Category: भारत Comments Off A+ / A-

-हाथरस, 9 अप्रैल (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यहां मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा। संकल्पपत्र का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा इस बार फिर नया ‘धोखापत्र’ लेकर आई है।

सपा प्रमुख ने कहा, “हमारा गठबंधन न्याय दिलाने वालों का है। इससे भारतीय जनता पार्टी की नींद गायब हो गई है। वे रात-रात भर बैठकें कर रहे हैं। भाजपा सरकार के पास पांच साल के कार्यकाल का कोई हिसाब नहीं है। 2014 का संकल्पपत्र भाजपा अभी तक पूरा नहीं कर सकी। इस बार फिर नया धोखापत्र ले आई है।”

अखिलेश मंगलवार को हाथरस में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी रामजी लाल सुमन के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया है। आलू किसानों को लागत मूल्य नहीं मिल रहा है। देश का अन्नदाता बर्बाद हो गया। किसानों की आय लगातार कम हुई है। नोटबंदी की कोई उपलब्धि नहीं रही। भ्रष्टाचार और कालाधन बढ़ा है। व्यापारी बर्बाद है। नौजवान बेरोजगारी से परेशान हैं। रोजगार के मुद्दे पर भी भाजपा सरकार फेल हो गई है।

आखिलेश ने कहा कि भाजपा के बुलेट ट्रेन का वादा हवा-हवाई साबित हुआ, जबकि सीमा के जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट की ज्याद जरूरत है। भाजपा सरकार में सीमाएं असुरक्षित हो गई हैं। हमारे जवान रोजाना शहीद हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सवाल नहीं पूछा जाएगा तो लोकतंत्र खत्म हो जाएगा। जो कोई सवाल उठाता है, उसे देश विरोधी करार दिया जा रहा है। भाजपा सरकार में संविधान खतरे में है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, “मुख्यमंत्री कहते हैं कि उन्होंने नौजवानों को कांवड़ यात्रा करा दी। बेहतर होता कि वे कांवड़ यात्रा में शामिल सभी नौजवानों को नौकरी दे देते।”

भाजपा फिर से धोखापत्र ले लाई : अखिलेश Reviewed by on . हाथरस, 9 अप्रैल (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यहां मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा। संकल्पपत्र का जि हाथरस, 9 अप्रैल (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यहां मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा। संकल्पपत्र का जि Rating: 0
scroll to top