Friday , 19 April 2019

धर्म-अध्यात्म

Feed Subscription

adhyatma samachar

जो लोग ताकत का दुरुपयोग करते हैं उनका होता है ऐसा हाल

जो लोग ताकत का दुरुपयोग करते हैं उनका होता है ऐसा हाल

पुराणों में मां दुर्गा द्वारा महिषासुर नाम के राक्षस के वध की कथा आती है। महिषासुर ने अपनी शक्तियों का दुरुपयोग करना शुरू कर दिया। उसके बुरे कामों और विचारों का आतंक इतना बढ़ चुका ...

Read More »
जीवन की उत्कृष्टता और सार्थकता

जीवन की उत्कृष्टता और सार्थकता

सुख प्राप्ति की चेष्टा प्रत्येक मनुष्य करता है। वह जीवन रूपी घड़ी की सुई की तरह क्रियाशील रहता है। क्रियाशील न रहने वाला मनुष्य जीवित रहते हुए भी मृत्यु के समान है। सुख का आधार मन ...

Read More »
108 का रहस्य

108 का रहस्य

वेदान्त में एक मात्रकविहीन सार्वभौमिक ध्रुवांक 108 का उल्लेख मिलता है जिसका हजारों वर्षों पूर्व हमारे ऋषियों (वैज्ञानिकों) ने अविष्कार किया था l मेरी सुविधा के लिए मैं मान लेता हू ...

Read More »
मन्त्र जाप का प्रभाव

मन्त्र जाप का प्रभाव

12 राशियों में 9 ग्रहों के विचरने से 108 प्रकार की शुभ अशुभ स्थितियों का निर्माण होता है जो हर मानव को प्रभावित करती है। हर व्यक्ति यह चाहता है की उसके साथ सिर्फ अच्छी परिस्थितिया ...

Read More »
होली : शिव-पार्वती की पौराणिक कहानी

होली : शिव-पार्वती की पौराणिक कहानी

होली की एक प्रामाणिक कथा के अनुसार हिमालय पुत्री पार्वती चाहती थीं कि उनका विवाह भगवान भोलेनाथ से हो जाए परंतु शिवजी अपनी तपस्या में लीन थे। तब कामदेव पार्वती की सहायता के लिए को ...

Read More »
विकास का साधन

विकास का साधन

ज्ञान का और जीवन का नजरिया ऊंचा होने से आदमी सभी समस्याओं को कुचलते हुए ऊपर उठ जाता है । दुनिया में ऐसी कोई समस्या या मुसीबत नहीं है जो आपके विकास का साधन न बने । कोई भी समस्या, म ...

Read More »
सिद्ध पुरुष स्वामी रामकृष्ण परमहंस

सिद्ध पुरुष स्वामी रामकृष्ण परमहंस

स्वामी रामकृष्ण परमहंस एक सिद्ध पुरुष थे। हिंदू धर्म में परमहंस की पदवी उसे ही दी जाती है जो सच में ही सभी प्रकार की सिद्धियों से युक्त सिद्ध हो जाता है। बंगाल के हुगली जिले में स ...

Read More »
संस्कृति के केन्द्र ‘तपोवन’

संस्कृति के केन्द्र ‘तपोवन’

भारत के बारे में हमारी समझ तब तक अधूरी रहने वाली है जब तक हम इस देश में विकसित वन संस्कृति के बारे में अपना पूरा परिचय नहीं पा लेते। जो लोग भारत की पुरानी काया के बारे में थोड़ी भ ...

Read More »
अगाध श्रद्धा के आगे सारी रात जागे बाबा

अगाध श्रद्धा के आगे सारी रात जागे बाबा

वाराणसी। महाशिवरात्रि पर अगाध श्रद्धा से गदगद बाबा पूरी रात जागे। गर्भगृह मड़वे सा सजा और बाबा के सिर सेहरा फबा। चारों पहर रच रच श्रृंगार और भोग में नाना विध आहार। मिष्ठान, पकवान, ...

Read More »
मौत पीछा नहीं छोड़ती

मौत पीछा नहीं छोड़ती

एक बहुत प्यारी सूफ़ी कहानी है। एक बादशाह ने एक दिन सपने में अपनी मौत को आते हुए देखा। उसने सपने में अपने पास खड़ी एक छाया देख उससे पूछा-'तुम कौन हो? यहां क्यों आयी हो?'उस छाया या ...

Read More »
scroll to top